SSL क्या होता है , वेबसाइट के लिये क्यों जरूरी है ?

SSL kya hai
SSL kya hai

SSL  in Hindi

 

SSL हिन्दी  मे

 

what is ssl certificate

 

आज हम इस आर्टिकल मे SSL क्या है ? (what is SSL in hindi ), SSL कैसे काम करता है , SSL का full form क्या है, और SSL कहा से purchase करे ये जानेंगे |

आज का internet युग है | आज हम सब इंटरनेट use करते है | इंटरनेट पर लाखो website है और ऊन वेबसाइट करोडो लोग visit देते है |

जैसे की हम ऑनलाइन shopping के लिये Flipkart, Amazon, Snapdeal और भी बहुत सारी website का use करते है |

घर की बिल ऑनलाइन पे करते है | Phone, DTH recharge करते है और भी online payment करते हो | जब भी हम online payment करते है |

तो उस website पर अपनी personal details Fill-up करते है |

ये सारी details कोई भी website आप fill-up करते क्या आप website secure है ये चेक करते है |

क्योंकी इंटरनेट पर हजारो हॅकर आप की इन सभी हरकतो पर नजर रखे हुये होते है | ये हॅकर आप का डाटा चुरा लेते है |

हॅकर internet पर phishing करके आप की सारी इन्फॉर्मेशन चुरा ले सकते है |

 

SSL kya hai
 

 

ये भी पढे : – Phishing क्या है इससे कैसे बचे

 

हमारी सभी पर्सनल डिटेल्स जहा पर भी fill-up करते है | क्या वो website का connection secure है |

क्योंकी किसी भी वेबसाइट को secure करने के लिये एक protocol use किया जाता है |

उसी protocol को SSL Certificate (Secure Socket Layer) कहते है |

ये protocol आपकी वेबसाइट को secure रखने का काम करता है | मतलब हॅकर आपका कोई डाटा चुरा नही सकता |

क्योंकी ये connection secure होने की वजह encrypted format मे होता है |

अगर हॅकर कोई भी डाटा receive कर भी लेता है तो hacker ये डाटा Read नही कर पाते |

 

digital certificate kya hai

 

SSL क्या होता है ये कैसे काम करता है

SSL kya hota hai kaise kam karata hai

 

इसका  काम दो सिस्टीम के बीच होने वाले communication को सुरक्षित करना होता है |

यहा पे कम्युनिकेशन का मतलब direct communication नही बल्की डाटा ट्रान्सफर करना है |

और उस डाटा को secure करना हो तो उस टाइम हम  ये टेकनिक का use करना होता है |

दो system मतलब browser to server | या फिर server तो server |

जब भी हम हमारे कम्प्युटर मे किसी भी वेब browser के address bar मे कोई भी website को open करते है |

तब उस browser और server के बीच एक communication होता है | उस टाइम इस टेकनिक का use होता है |

 

SSL फूल फॉर्म in hindi

सिस्टिम सिक्युर लेयर

SSL Full Form

Secure socket layer

 

SSL कैसे वर्क करता है

SSL kaise work karta hai

How does it work

आप जब भी  वेबसाइट ओपेन करते है | तो browser इज टाइम कया करता है

एसएसएल वाली वेबसाइट को कनेक्ट करणे की कोशिश करेगा और उसे request करेगा |

 

SSL kya hai

 

आपकी वेबसाइट जिस सर्वर पर है वो सर्वर bowsers एक एसएसएल certificate की एक कॉपी browser को सेंड करेगा |

मतलब सबसे पहले browser server request भेजेगा और सर्वर certificate की एक कॉपी browser को भेजेगा

Browser उस  certificate की कॉपी को चेक करेगा की ये genuine है या नही |

browser server को एक msg भेजता है ये ok है |

तब सर्वर एक digitalized sing acknowledgement browser को भेजता है |

और इस तरह दोनो के बीच मतलब browser और server या फिर server और browser के बीच Communication encrypted format मे शुरू हो जाता है |

इससे आपका डाटा secure रहाता है |

कैसे चेक करे website पर एसएसएल  install है या नही

जब भी कोई भी वेबसाइट आप किसी भी browser मे open करते है |

तो वो वेबसाइट जब open होती है अगर वो http:// से शुरू होती है तो उस website मे SSL Certificate install नही है |

अगर website https:// से शुरू होती है उस website मे SSL certificate install है |

जैसे की मैने मेरी वेबसाइट वेबसाइट के दो screen shot दिये है |

उसमे  एसएसएल certificate install होने से पहले और एसएसएल certificate को install करने के बाद कैसे दिखता है |

और क्या msg show करता है ये आप देख सकते हो |

 

कैसे समझे वेबसाइट SSL install है या नही

 

हम जब कोई भी वेबसाइट open करते है तो address बार website का address टाइप करते है

जैसे की  http://www.nokaritimes.com

SSL kya hai

 

जैसे आप यहा पे देख रहे है की website का address http:// से शुरू हूआ है मतलब

इस वेबसाइट मे एसएसएल certificate नही इंस्टॉल है | इसका मतलब ये है की ये website secure नही है |

लेकीन जब मैने जब certificate install किया तो मेरी website का URL https://www.nokaritimes.com ऐसा हो गया |

 

SSL kya hai

 

मतलब ये website secure है

 

http और https क्या अंतर है

 

http :// Full form Hyper Text Transfer Protocol
https:// Full form Hyper Text Transfer Protocol Secure

 

SSL क्या काम करता है |

 

SSL kya kam karata hai
 

जिस website के डोमेन name के आगे S लगा होता है |

उस website मे Secure Socket Layer होता है |

ये secure layer कोई भी हॅकर website का कोई भी डाटा Access करने की कोशिश करता है |

ये secure layer उस hacker को कोई डाटा access करने की permission नही देता |

अगर कोई hacker उस data को access कर भी लेता है | वो डाटा hacker encrypted format मिलता है |

ये डाटा unreadable होता है | उसे hacker read नही कर सकता |

Therefore SSL is Secure for your website. क्योंकी SSL की वजह से browser और server के बीच डाटा transfer encrypted format ही होता है |

इस साब conculison ये है की ये एसएसएल certificate (socket security layer) आपकी website को secure बनाता है |

और आपका डाटा चोरी होने से सेव हो जाता है |

 

ये भी पढे : – Phishing क्या है इससे कैसे बचे

 

Types of SSL certificate

 

SSL certificate के प्रकार

 

1. Multi-Domain (SAN) SSL Certificate
2. Wildcard SSL Certificate
3. Domain validated SSL
4. Code Signing Certificate
5. Extended Validation (EV) SSL Certificate
6. Unified Communications Certificate (UCC)
7. Organization Validation SSL

 

1) Multi-Domain (SAN) SSL Certificate:-

मल्टी डोमेन एसएसएल सेर्टिफिकेट 250 डोमेन और sub डोमेन के लिये use किया जाता है | इस certificate मे आपको डोमेन validation, Extended Validation और Organization Validation मिलता है |

 

2) Wildcard SSL Certificate:-

वाइल्ड कार्ड SSL सर्टिफिकेट मे आप एक डोमेन के साथ आप जो sub डोमेन create करोगे उन सभी के लिये ये security provide करता है |

इसमे आपको Domain और organization validation मिल जाता है |

 

3) Domain validated SSL

आप कभी new blogger है और आपके आपकी website के लिये कोई डोमेन purchase किया तो आपके लिये ये best option है |

ये सबसे cheap एसएसएल certificate होता है | यहा पे आपको ज्यादा पैसे खर्च करने की जरूरत नही है | यह आपको बहुत जल्द ही मिल जाता है |

 

4) Code Signing Certificate:-

Code Signing Certificate से आप अपणी फिलेस और application भी secure कर सकते हो |

 

5) Extended Validation (EV) SSL Certificate:-

जो भी website business website या फिर जो भी website online transition (bank, Finance, Ecommerce ) करते है |

उन वेबसाइट के लिये EV SSL बहुत ही जरूरी होता है | इस certificate मे address बार मे आपके business के नाम भी show करता है |

ये बहुत trusted और High Recognized और Encrypted एसएसएल होता है |

ईसे purchase करने के बाद active होने मे 7 – 10 दोनो तक समय लग सकता है |

 

6)  Unified Communications Certificate (UCC) : –

 

UCC SSL एक सिंगल डोमेन through 100 डोमेन को secure करता है | इसे बडे server को secure करने के लिये design किया गया है |

 

7)  Organization Validation SSL : –

 

ये एक online business को verify और secure करने के लिये उसे किया जाता है |

इसे active  होने मे 2-3 दिन का समय लग सकता है |

 

Website के लिये SSL क्यो जरूरी है |

 

Why important SSL for your website

 

अगर आप कोई भी website से कोई भी transaction करते है जैसे की Money transfer, बिल पेमेंट, shopping इस use करते है |

किसी website मे User ID Password की सुविधा है तो उस website पे अगर एसएसएल certificate होना जरूरी है |

वो एसएसएल certificate आपकी सारी confidention information सेफ रखता है |

और अभि माना जा रहा की google मे कभी आपकी site आपकी rank करनी है |

तो आपको website को एसएसएल होना जरूरी है |

क्योंकी google ऐसी website first priority देता है rank करने मे |

 

एसएसएल  कहा से खरीदे सकते है  Kaha se kharide SSL Certificate

 

आज बहुत सारी कंपनी आप होस्टिंग जब purchase करते है उसी वक्त एसएसएल certificate free मे provide करती है |

और लेंना भी है तो अलग कंपनी से न लेकर अपनी होस्टिंग कंपनी से ही purchase करे |

Let’s Encrypt, Cludflare Free SSL/TLS, SSL for Free SSL ये फ्री और Comodo ये paid certificate provide करती है |

 

SSL के फायदे क्या है |

 

Benifit of SSL Certificate |

 

  • Phishing Attack से बचाता है |
  • Customer rating बढता है |
  • अपना डाटा secure रहता है |
  • Website SEO बढाने अपकी help करता है|
  • Website की performance improve करता है |

 

Article का Conclusion :-

 

Guys मैने आपको यहा इस article मे एसएसएल  क्या है | ये पुरा बताने की कोशिश की है |

एसएसएलcertificate  कितने प्रकार की होती है ,

इस article मे एसएसएल क्या है ये आपको समझ गया होगा ये आशा करता हू |

अगर आपको कोई भी doubt है तो आप comment बॉक्स मे पुछ सकते है |

दोस्तो अगर आपको ये article पसंत आया है |

तो आप इसे social मीडिया मे जैसे की Facebook, Twitter, Whatsapp, पे जरूर share करे |

 

ये भी पढे:- 

 

1.  वेबहोस्टिंग क्या होती है कैसे purchase करे

2. wordpress पर अपनी  वेबसाइट कैसे बनाये 

3. wordpress वेबसाइट मे plugin कैसे install करे

4. backlink   क्या होती है , types of backlinks

5. SEO क्या होता है types of SEO

6. Phishing क्या है इससे कैसे बचे

Parmeshwar Thate
Hello, Friends, I Parmeshwar Thate. I am Admin and Founder of Digi-Solution.in.

I am a Post Graduate in Mass Communication and Journalism from North Maharashtra University, Jalgoan (M.H.)

On this website, Here, I will share information related to technology & Entertainment. And I will try to teach you.

You can also follow us on social media.
Parmeshwar Thate on FacebookParmeshwar Thate on InstagramParmeshwar Thate on LinkedinParmeshwar Thate on TwitterParmeshwar Thate on Youtube
Avatar
About Parmeshwar Thate 28 Articles
Hello, Friends, I Parmeshwar Thate. I am Admin and Founder of Digi-Solution.in. I am a Post Graduate in Mass Communication and Journalism from North Maharashtra University, Jalgoan (M.H.) On this website, Here, I will share information related to technology & Entertainment. And I will try to teach you. You can also follow us on social media.

7 Trackbacks / Pingbacks

  1. Phishing क्या है, फिशींग से कैसे बचे - Digi- solution
  2. What is phishing, Types of phishing, How to protect yourself
  3. Guest Post kya hai - 2020 me SEO ke liye kyo jaruri hai
  4. Domain Name क्या है ? domain कितने प्रकार के होते है ? - Digi- solution
  5. URL क्या होता है ? url कैसे काम करता है ? - Digi- solution
  6. इंटरनेट क्या है | इंटरनेट का मालिक कौन है | - Digi- solution
  7. Online usefull Tool and website for helping in 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


CommentLuv badge